नवार्ण मंत्र Navarn mantra

इस Forum में केवल वैदिक मंञ { Vedik Mantra } की post करे।
Post Reply
Rajniyadav
Rank1
Rank1
Posts: 25
Joined: 17 Dec 2018, 14:44
Gender:
India

नवार्ण मंत्र Navarn mantra

Post by Rajniyadav » 06 Feb 2019, 10:05

॥ ऐं ह्रीं क्लीं चामुन्डायै विच्चै ॥

ऐं = सरस्वती का बीज मन्त्र है ।

ह्रीं = महालक्ष्मी का बीज मन्त्र है ।

क्लीं = महाकाली का बीज मन्त्र है ।

नवार्ण मन्त्र का जाप इन तीनों देवियों की कृपा प्रदान करता है ।

साधना विधि :-

वस्त्र आसन लाल होगा .
दिशा कोई भी हो सकती है.
स्नान कर के बैठेंगे .
रात्रि काल में जाप होगा.
रुद्राक्ष की माला से जाप करें.
ब्रह्मचर्य का पालन करें.
बकवास और प्रलाप से बचें.
यथासंभव मौन रहें.
यथा शक्ति जाप करें.


आप का दिन शुभ हों
रजनी यादव :idea:

Link:
BBcode:
HTML:
Hide post links
Show post links

Post Reply